इंटरनेट और गोपनीयता

as.jpg

इन्टरनेट आज के युग में इन्टरनेट एक महत्वपूर्ण जरूरत बन चुका है,

फिल्म देखने जाना है? इन्टरनेट से मूवी हाल खोजा, टिकिट बुक किया और चले फिल्म देखने.

फोन का बिल चुकाना है फ़ोन कंपनी के पोर्टल पर लॉग इन किया और बिल चूका दिया.

बैंक बैलेंस चेक करना है बैंक का एप्लीकेशन खोला लॉग इन किया, और चेक कर लिया.

सोशल मीडिया तो आज खबर और अफवाह दोनों का सबसे बड़ा साधन है ही, साथ ही जीपीएस भी बन चूका है, Manish Sirsiwal Checked in at Marriot in Atlanta, Manish Sirsiwal is live from CNN, Manish Sirsiwal is eating at Taj Mahal Indian Restaurant

पर क्या कभी ये  सोचा है आप अपनी कितनी जानकारी इन्टरनेट पर असुरक्षित छोड़ देते है? या फिर आपकी जानकारी का यदि गलत इस्तेमाल होता हो तो आपका क्या होगा? चलिए कुछ उदाहरण देखते हैं.

आपके पास अनेकों बार बैंक से फोन आते हैं, लोन लेने के लिए, मगर उनके पास आपकी जानकारी कहाँ से आती है?

आप गूगल पर फर्नीचर के विषय में खोज करते हैं और हर वेबसाइट पर फर्नीचर की दुकानों का एड आने लगता हैं. आखिर उन वेबसाइट को आपकी फर्नीचर में रुचि का पता कैसे लगा?

चलिए ये तो साधारण बातें है, पर सोचिये, आपने अपने बैंक की वेबसाइट पर लॉग इन किया और आपका यूजर नेम पासवर्ड आपके डिवाइस और बैंक के सर्वर के मध्य चोरी हो गया. या कोई और डाटा आपके डिवाइस और सर्वर के मध्य चोरी हो गया?

अभी कुछ दिन पूर्व ही कुछ शरारती तत्वों ने कांग्रेस का और कांग्रेस उपाध्यक्ष का ट्विटर अकाउंट हैक किया था.

इन्टरनेट जितना सहायक हैं उतना ही खतरनाक भी, यदि थोड़ी सावधानी से इन्टरनेट का प्रयोग किया जाए तो इन्टरनेट बहुत सहायक है परन्तु ज़रा सी असावधानी आपको बड़ी परेशानी में डाल सकती है. मैं इस ब्लॉग में कुछ ऐसी साधारण टिप्स लिख रहा हूँ, जिसको प्रयोग करने से आप कुछ हद तक सुरक्षित रूप से ब्राउज़िंग कर सकते हैं.

आप अपनी डिवाइस पर कोई भी पासवर्ड या महत्वपूर्ण गुप्त जानकारी स्टोर करते हैं तो ये बहुत गलत है, यदि आपका डिवाइस किसी गलत हाथ में चला गया तो आप बड़ी परेशानी में पड़ सकते हैं.

आप जब इन्टरनेट पर हैं, ये सुनिश्चित करें की आपका डाटा एन्क्रिप्ट हो कर गंतव्य तक पहुंचे. और नीचे पोस्ट किये गए एप्लीकेशन से आप ये सुनिश्चित कर सकतें हैं.

HTTPS Everywhere: डाटा एन्क्रिप्ट करने के लिए

अपने ब्राउज़र में ये सुनिश्चित करें की आपकी अनुमति के बगैर कुकी डाउनलोड न की जा सकें इसके लिए अपने ब्राउज़र के अनुसार ये स्टेप फॉलो कर सकते हैं

कुकी इनेबल करने के लिए स्टेप्स

इन्टरनेट सर्विस प्रोवाइडर का चयन करते समय केवल ये न देखें की वो कितना चार्ज कर रहे हैं, बल्कि ये देखें वो कितने विश्वसनीय हैं. २०१४ में अमेरिका के सबसे बड़े इन्टरनेट सर्विस प्रोवाइडर में से एक वेरिज़ोन कुकी इंजेक्ट कर यूजर की जानकारी बेचते पकडे गए थे

इन्टरनेट सर्विस प्रोवाइडर द्वारा डाटा चोरी

सबसे आखिरी और सबसे सुरक्षित उपाय टोर ब्राउज़र, ये ब्राउज़र आपके इन्टरनेट सर्विस प्रोवाइडर को आपकी कोई जानकारी नहीं लेने देता, यही नहीं, किसी भी सरकारी या गैर सरकारी ट्रेकर को आपकी जानकारी नहीं एकत्रित नहीं करने देता.

टोर ब्राउज़र विंडोज कंप्यूटर के लिए

टोर ब्राउज़र का एंड्राइड पर प्रयोग करने के लिए Orbot एप डाउनलोड कर सकते हैं.

अंत में इन्टरनेट का प्रयोग तो अवश्यंभावी हैं पर इसका प्रयोग अत्यंत सावधानी से करना आवश्यक है, अन्यथा सावधानी हटी, दुर्घटना घटी.

4 comments

  1. शानदार, ऐसे ही मेरा ज्ञान बढ़ाते रहिये।

    Like

    1. धन्यवाद

      Like

  2. अच्छी जानकारी।

    Like

    1. Glad that you liked it. Thank you.

      Liked by 1 person

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: